​डायल  रॉन्ग नम्बर, फिर प्यार और रचा लिया विवाह

ताकते रहे परिजन, न्यायालय से भी मिली निराशा
घर के भागे प्रेमी जोडे ने की कोर्ट मैरिज, पुलिस ने मामले से हाथ खींचे 
एक वर्ष पूर्व घर से भागे थे प्रेमी-प्रेमिका 
मनोज शर्मा / हेमंत चैरसिया
ऋषी न्यूज संवाद उरई। 
उरई। एक वर्ष पूर्व घर से भागे प्रेमी जोडे को आखिरकार पुलिस ने कानपुर से बरामद कर लिया और कालपी कोतवाली ले आई। यहां पर पूछताछ के दौरान प्रेमिका ने बताया कि वह बालिग है और उसने कोर्ट मैरिज भी कर ली है। उसने अपने बालिग होने और कोर्ट मैरिज के प्रमाण दिखाए। इसके बाद पुलिस बैकफुट पर आ गई और उसने युवती को पति के सुपुर्द कर दिया। 
गौरतलब है कि कालपी के चौरासी गुम्बद के पास रहने वाली रजनी 20 वर्ष पुत्री ग्याप्रसाद निषाद बीती 26 मई 2016 को घर से लापता हो गई थी। इस मामले में युवती के परिजनो ंने गुमशुदगी की रिपोर्ट अज्ञात लोगों के खिलाफ दर्ज कराई थी। पुलिस मामले की छानबीन कर रही थी। तभी पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर कानपुर से उक्त युवती व उसके प्रेमी पति रंजीत निवासी काजीपुर संडीला जिला हरदोई को पकड लिया और उन्हें कालपी कोतवाली ले आए। यहां पर पूछताछ के दौरान प्रेमी जोडे ने बताया कि एक वर्ष पूर्व उनकी रॉन्ग कॉल से फोन पर बात हुई थी। इसके बाद दोनों में अक्सर बातें होने लगीं और प्यार हो गया। इस प्यार को परवान चढाने के लिए वह लोग घर से भाग गए और उन्होंने कोर्ट मैरिज कर ली। युवती ने अपने बालिग होने व कोर्ट मैरिज के प्रमाण पुलिस को दिखाए। जिसके बाद कोतवाली पुलिस बैकफुट पर आ गई और दोनों को पति-पत्नी मानते हुए युवती को पति के सुपुर्द कर दिया। इसके बाद उक्त प्रेमी अपने घर लौट गए। 

Advertisements